खुशी और आनंद में अंतर, तनाव से मुक्ति

खुशी और आनंद में अंतर, तनाव से मुक्ति

Motivation
Yogachrya shivender kumar Radha yoga and herbs, Saintsam, खुशी और आनंद में अंतर , आनंद को अपने भीतर पैदा करें दो शब्द जो एक दूसरे के पर्याय में देखो जाते हैं लेकिन वास्तव में इन में बहुत बड़ा अंतर है इसे हम एक प्रयोग से देखते हैं कि कैसे होता है। आप किसी व्यक्ति में खुशी बाँट के देखो आपको एक अलग तरह की खुशी का अनुभव होगा . जो सुख किसी को सुख बांटने में मिला वह आनंद है। मिश्र में एक दंतकथा है। जब कोई व्यक्ति स्वर्ग में प्रवेश चाहता है तो उससे दो प्रश्न पूछे जाते हैं। पहला प्रश्न है खुशी और आनंद का अनुभव किया, दूसरा क्या अपने आस-पास के लोगों में सुख खुशी बांटी है। अगर आपका उत्तर हाँ में है तो आप का स्वर्ग में प्रवेश…
Read More

ओशो प्रवचन, जिससे ईसायत तिलमिला उठी थी

Motivation
ओशो का वह प्रवचन, जिसपर तिलमिला उठी थी अमेरिकी सरकार और दे दिया जहर ओशो का वह प्रवचन, जिससे ईसायत तिलमिला उठी थी और अमेरिका की रोनाल्ड रीगन सरकार ने उन्हें हाथ-पैर में बेडि़यां डालकर गिरफ्तार किया और फिर मरने के लिए थेलियम नामक धीमा जहर दे दिया था। इतना ही नहीं, वहां बसे रजनीशपुरम को तबाह कर दिया गया था और पूरी दुनिया को यह निर्देश भी दे दिया था कि न तो ओशो को कोई देश आश्रय देगा और न ही उनके विमान को ही लैंडिंग की इजाजत दी जाएगी। ओशो से प्रवचनों की वह श्रृंखला आज भी मार्केट से गायब हैं। ओशो: जब भी कोई सत्य के लिए प्यासा होता है, अनायास ही वह भारत में उत्सुक हो उठता है। अचानक पूरब की यात्रा पर निकल पड़ता…
Read More

पीड़ा सृजन की जननी है, तनाव से मुक्ति, Be positive

Motivation
Yogacharya Shivenfer kumar @ Radha yoga and herbs, Saintsam बिना सूली चडे जिसुस नहीं बना जा सकता , बिन विषपान शिव नहीं हो सकता , बिना विषपान सुकरात, मीरा नहीं बन जा सकता . बिना त्याग बुध नहीं बना जा सकता. परीक्षा जरूरी है , बिना परीक्षा उतीर्ण नहीं हुआ जा सकता  Be positive तनाव से मुक्ति  पीड़ा सृजन की जननी है . बिना सूली चडे जिसुस नहीं बना जा सकता , बिन विषपान शिव नहीं हो सकता , बिना विषपान सुकरात, मीरा नहीं बन जा सकता . बिना त्याग बुध नहीं बना जा सकता. परीक्षा जरूरी है , बिना परीक्षा उतीर्ण नहीं हुआ जा सकता कष्ट सब के मार्ग में आते है; जो जितना ऊँचा है वोह उतना गहरा है ; गहरे जाना उपर उठने का मार्ग है पीछे खिसकना आगे…
Read More

SCIENCE BEHIND OM

Hinduism, Motivation
Where there is movement there is vibration. Where there is vibration there is sound. That sound produced from vibration of universe is ..... ॐ OM neither has definition nor meaning. It is meaningless. Ohm symbolize all that cannot be describe or written. If someone is defining Ohm it means he is brightening the light with lamp. It is just sound. Sound that unite the cosmos with it wave. OM is sound produced from the vibration due to movement of cosmos. Keep in mind where there is meaning there is limit. And OM is limitless rather infinite. When there is meaning there is opposite of it and Will you please describe opposite of OM, Om has no opposite. Life is opposed by death; light is opposed by darkness, duality by unduality, liberation by…
Read More

“For achievement one has to create oneself. Be a brush of yourself. Brush oneself to become masterpiece of painting. A painting that whole world want to see, whole world want to praise. Seekers are the gainer”

Motivation
“The one, who seeks intensely, dives deep fearlessly, and, finds precious pearls. The one, Who is foolishly scared, of getting drowned, remains on the shore, without any pearl.” It is said “Gardner sow the seed and water it Season come and fruits ripe” Miracles not happen you have to create miracles. “Thinking gives birth to births” as you think so you will be. Don’t stop; Don’t stop! Even if you have lost. “Walking on thorns. You will get shadow of thrones. Fellows are in wine-yards. It is your exams. Just walk away with heart’s support Destination is pointing. See anyone do not hold you by evoking. Even if you have lost.” Never allow negativity to overcome you in any situation: Ordeals are necessary in uplifting of life. Without examination success…
Read More